Humsafar

हमसफ़र ( Humsafar )



हम भी मुसाफ़िर हैं, तुम भी मुसाफ़िर हो,
थोड़ा सफ़र कर लो अब हमसफ़र बनकर। 
Hum bhi musafir hain, tum bhi musafir ho,
Thoda safar karlo ab humsafar bankar.

मेरी कहानी के जो बचे कुछ कोरे पन्नें हैं,
उनपर आज तुम लिखदो एक कलम बनकर।  
Meri kahani ke jo bache kuch kore panne hain,
Unpar aaj tum likhdo ek kalam bankar.

दिल के मेरे आंगन की है ज़मीं बंजर,
उसे फ़िर हरा करदो तुम कोई कली बनकर।  
Dil ke mere aangan ki hai zamin banjar,
Use phir hara kardo tum koi kali bankar.

तन्हां हूँ बरसों से आसमां की तरह में,
अपनी रोशनी से भरदो तुम चांदनी बनकर।  
Tanha hun barso se aasman ki tarah mein,
Apni roshni se bhardo tum chandani bankar.

खोई हुई राहों का भटका सा मैं राही हूँ,
मंज़िल तक पहुंचा दो तुम मेरी डगर बनकर।
Khoi hui rahon ka bhatka sa mein rahi hun,
Manzil tak pahuncha do tum meri dagar bankar.

सब कुछ पाकर भी मैं हूँ 'सिफ़र' अब तक,
अनमोल मुझे कर दो मेरा जोड़ बनकर। 
Sab kuch pakar bhi mein hun 'Sifar' ab tak,
Anmol mujhe kar do mera jod bankar.

हमसफ़र (humsafar)- Life Companion; कोरे पन्नें ( kore panne )- Plain/empty pages ; कलम ( kalam)  -Pen ;  आंगन ( aangan ) - Courtyard ; बंजर (banjar) - Barren ; आसमां (aasman) - Sky ; डगर ( dagar) - Path ; अनमोल ( Anmol ) - Priceless 

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

Singhasan Khali Karo Ki Janata Aati Hai

Ye Hai Mera Hindustan Mere Sapno Ka Jahaan

The Seven Stages Of Love